MP Board Class 12th English The Spectrum Solutions Chapter 5 Ten Natural Laws of Success

Guys who are planning to learn and understand the topics of MP Board Class 12th English Solutions The Spectrum Solutions Chapter 5 Ten Natural Laws of Success from this page for free of cost. Make sure you use them as reference material at the time of preparation & good grades in the final exams. Students who feel tough to learn English concepts can take help from this MP Board Board Class 12th English Chapter 5 Ten Natural Laws of Success PDF and answer all the questions easily in the exams. Go to the below sections and get Class 12th English Chapter 4 MP Board Board Solutions PDF. Students can also download MP Board 12th Model Papers to help you to revise the complete Syllabus and score more marks in your examinations.

MP Board Class 12th English The Spectrum Solutions Chapter 5 Ten Natural Laws of Success (Hyrum W. Smith)

Do you feel scoring more marks in the English Chapter sections and passage sections are so difficult? Then, you have the simplest way to understand the question from each concept & answer it in the examination. This can be only possible by reading the passages and topics involved in the MP Board Board solutions for Class 12th English Chapter 5 Ten Natural Laws of Success. All the Questions and Answers are covered as per the latest syllabus guidelines. Check out the links available here and download Class 12th English Chapter 4 textbook Answers for MP Board Board.

Ten Natural Laws Of Success Exercises From The Text-Book

Word Power

A. लैटिन भाषा ‘cred’ का अर्थ है ‘to believe, trust’ क्या तुम इसी धातु वाले अन्य शब्दों को अनेक अर्थ से जोड़ सकते हो।
Answer:

  • credit – to give credit to
  • accredit – a reputation for being trustworthy
  • credentials – a certificate
  • discredit – to harm the credit or reputation of someone

B. उपसर्ग ‘in’- के मुख्य दो अर्थ हैं (i) not, without, (2) in, into, withini यह अपने बाद आने वाले letter के अनुसार अपनी spelling भी बदलता है। अतः in – कभी-कभी em-, en-, il-, im-, ir- हो जाता है। अब क्या तुम दिये हुए शब्दों के पूर्व सही उपसर्ग लगा सकते हो, साथ ही यह पता कर सकते हो कि वह first type का अर्थ दे रहा है या second type का।
Answer:
MP Board Class 12th English The Spectrum Solutions Chapter 5 Ten Natural Laws of Success 1

Comprehension

निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए

Question 1.
When do we experience inner peace? [2009, 16]
हमें आन्तरिक शान्ति का अनुभव कब होता है?
Answer:
When we obey natural laws, we experience inner peace.
जब हम प्राकृतिक नियमों का पालन करते हैं, तब हम आन्तरिक शान्ति का अनुभव करते हैं।

Question 2. What are comfort zones? [2009, 13, 15, 16, 18]
आराम के क्षेत्र क्या हैं?
Answer:
Comfort zones are those situations in our personality which are difficult to give up. They are physical, mental, emotional, social, or psychological comfort zones.
आराम के क्षेत्र हमारे व्यक्तित्व की वह स्थितियाँ हैं जिनको त्यागना अत्यन्त कठिन होता है। ये आराम के क्षेत्र शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक, सामाजिक या मनोवैज्ञानिक होते

Question 3.
How can we free up time? [2009]
हम किस प्रकार समय बचा सकते हैं?
Answer:
By investing a little time in certain activities we can free up time throughout the rest of the day,
निश्चित क्रिया-कलापों में थोड़ा समय देकर हम शेष पूरे दिन के लिये समय बचा सकते हैं?

Question 4.
What reflects our true belief?
हमारा विश्वास किस प्रकार परिलक्षित होता है?
Answer:
Our behaviour reflects our true belief.
हमारे व्यवहार से हमारा विश्वास परिलक्षित होता है।

Question 5.
What do incorrect beliefs lead to?
गलत धारणायें व विश्वास किधर ले जाते हैं?
Answer:
Incorrect beliefs lead to non-full filment of your basic needs.
गलत धारणायें व विश्वास हमें हमारी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति से दूर ले जाते हैं।

Question 6.
Who is the best judge of self-worth? [2017]
स्व-योग्यता का सर्वोत्तम निर्णायक कौन है?
Answer:
One oneself is the best judge of self-worth.
मनुष्य स्व-योग्यता का स्वयं सर्वोत्तम निर्णायक है।

Question 7.
What are natural laws? How do they affect our lives? [2009, 15, 16]
प्राकृतिक नियम क्या है? वे हमारे जीवन को किस प्रकार प्रभावित करते हैं?
Answer:
Natural laws are fundamental patterns of nature and life. They describe things and they really are. These laws govern our lives irrespective of our agreement or disagreement with them. Obeying them can help us gain control of our lives, improve our relationship, increase our personal productivity and experience inner peace.

प्राकृतिक नियम प्रकृति और जीवन के मूलभूत नियम हैं। वे चीजों को उनके वास्तविक रूप में दर्शाते हैं। हमारी सहमति या असहमति की परवाह किये बिना ये नियम हमारे जीवन को नियन्त्रित करते हैं। इनके पालन करने से हमें अपने जीवन पर नियन्त्रण रखने में सहायता मिलती है, हम अपने सम्बन्ध सुधारते हैं, अपनी व्यक्तिगत क्षमता को बढ़ा सकते हैं और आन्तरिक शान्ति का अनुभव करते हैं।

Question 8.
Distinguish between time management’ and ‘event control’. ‘समय प्रबन्धन’ एवं ‘घटनाओं के नियन्त्रण’ में अन्तर बताइए।
Answer:
We control our lives by controlling our time. Controlling our lives means controlling our time and controlling our time means controlling the events in our lives. Thus focussing on controlling the events of our lives makes all the difference.

हम अपने जीवन पर नियन्त्रण समय को नियन्त्रित रखकर करते हैं। जीवन पर नियन्त्रण · का अर्थ है-अपने समय पर नियन्त्रण और समय पर नियन्त्रण का अर्थ है-जीवन की घटनाओं
पर नियन्त्रण। इस प्रकार जीवन की घटनाओं पर नियन्त्रण हेतु ध्यान केन्द्रित करना ही बहुत महत्वपूर्ण है।

Question 9.
What are governing values? How can we identify our governing values?
निर्देशित करने वाले जीवन-मूल्य कौन से हैं? हम किस प्रकार इन जीवन-मूल्यों को पहचान सकते हैं?
Answer:
Governing values are the foundation of personal success and full filament. Each of us lives according to a unique set of governing values. These values are the things that are most important to us. We identify our governing values by choosing out of them the value of highest priority.

व्यक्तिगत सफलता एवं उपलब्धि की नींव होती है निर्देशित करने वाले जीवन-मूल्य। हममें से प्रत्येक व्यक्ति निर्देशित करने वाले जीवन-मूल्यों के एक विशिष्ट वर्ग में रहता है। ये मूल्य हमारे लिये सर्वाधिक महत्वपूर्ण हैं। हम इन जीवन-मूल्यों को उनमें से सबसे महत्वपूर्ण मूल्य को चुनकर पहचान सकते हैं।

Question 10.
Why should we leave our comfort zones and how? [2012, 14]
हमें अपने आसान क्षेत्रों को क्यों और कैसे छोड़ना चाहिए?
Answer:
We must leave our comfort zones to reach any significant goal. We can leave our comfort zones through effort and commitment.
किसी भी महत्वपूर्ण लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु हमें अपने आसान क्षेत्रों को छोड़ देना चाहिए। हम अपने आसान क्षेत्रों को प्रयास और दृढ़ इच्छा से छोड़ सकते हैं।

Question 11.
How can correcting beliefs solve problems?
अपनी धारणाओं व विश्वासों को सही कर हम किस प्रकार अपनी समस्याओं को हल कर सकते हैं?
Answer:
We can solve most of the problems by attacking incorrect beliefs and destructive behaviours without attacking ourselves or others.
गलत धारणाओं व विश्वासों और विध्वंसात्मक व्यवहार पर आक्रमण करके हम स्वयं या अन्य किसी को हानि पहुँचाये बिना बहुत-सी समस्याओं को हल कर सकते हैं।

Question 12.
What happens when we meet needs with incorrect beliefs? . गलत धारणाओं से जन्मी आवश्यकताओं के उत्पन्न होने पर क्या होता है?
Answer:
When we meet needs with incorrect beliefs, our results do not meet our needs.
जब हम गलत धारणाओं से जन्मी आवश्यकताओं का सामना करते हैं तब हमारे परिणाम हमारी आवश्यकताओं से मेल नहीं खाते।

Question 13.
How can we have more by giving more? [2013]
हम ज्यादा देकर और ज्यादा किस प्रकार प्राप्त कर सकते हैं?
Answer:
When we have an excess of anything-wealth, talent, knowledge, ability, experience, we should share that excess with others. That excess will grow faster than if we hoard it for ourselves. In this way we can have more by giving more.

जब हमारे पास किसी भी वस्तु जैसे धन, गुण, ज्ञान, योग्यता, अनुभव आदि की अधिकता हो तो हमें इसे दूसरों के साथ बाँटना चाहिए। ऐसा होने पर यह अपने पास रखने की तुलना में तेजी के साथ बढ़ेगा। इस प्रकार हम ज्यादा देकर ज्यादा प्राप्त कर सकते हैं।

Language Practice

A. खाली स्थानों में उपयुक्त articles भरो : जहाँ आवश्यक हो।
Answer:
1. Mr. Rao, a lecturer of Political Science from Vikram University, Ujjain stressed the need for a useful discussion for uplifting women, the poor and the downtrodden sections of society.

2. The students of Royal High School organized a one-day seminar on the role of the MPs in the Parliament.

3. The seminar concluded with a unanimous resolution that the MPs should rise above the state political prejudices and work for the unity and integrity of the country.

B. निम्न वाक्यों को सुधारिए :
Answer:

  1. There is an empty bottle on the table.
  2. The Earth moves around the Sun.
  3. Both men have not come.
  4. Draw a map of India.
  5. He travelled by sea.
  6. Whole country mourned for Mahatma Gandhi.

C. ‘a’ अथवा ‘the’ भरिए :
Answer:
Once there was a mouse. The mouse was always in anxiety because like other mice it was afraid of a cat. A magician took pity on the mouse and turned it into a cat. Now the cat was afraid of dogs. So, the magician turned the cat into a dog. Then the dog began to fear tigers. Now the magician turned the dog into a tiger. The tiger began to fear the hunters in the forest. Then the magician said, “Be a mouse again. You are not better than a mouse at heart.”

Ten Natural Laws Of Success Summary

– Hybrum W. Smith

प्राकृतिक नियम जीवन की मूलभूत आवश्यकता हैं। हम चाहें उनसे सहमत हों अथवा नहीं, वे हमारे जीवन को नियन्त्रित करते हैं। उनके पालन करने से जीवन बेहतर होता है। ये नियम निम्न प्रकार से हैं

  1. हमें जीवन की घटनाओं पर नियन्त्रण करना सीखना चाहिए।
  2. हमें कुछ ऐसे जीवन मूल्यों में विश्वास करना चाहिये जिनके सहारे हम आगे बढ़ने में सक्षम हो सकें।
  3. हमें अपने जीवन मूल्यों के सहारे अपने कार्यों को निष्पादित करना चाहिए। इससे हमें मानसिक शान्ति प्राप्त होती है।
  4. लक्ष्य प्राप्ति हेतु हमें भौतिक सुख-साधन छोड़ने चाहिए। साथ ही मानसिक, भावनात्मक व मनोवैज्ञानिक सुख-साधन छोड़ने के लिये भी तैयार रहना चाहिए।
  5. हमें प्रतिदिन अपनी दैनिक दिनचर्या को व्यवस्थित करना चाहिये ताकि हम अपने सभी कार्य सुचारु रूप से सम्पन्न कर सकें।
  6. हमें अपने व्यवहार में अपने पूर्वाग्रहों से मुक्त रहना चाहिये क्योंकि ऐसा नहीं कि जो कुछ हम सोचते हैं, वही सही होता हो।
  7. हमें अपने विचारों को वास्तविकता के साथ बिठाना चाहिए। ऐसा होने पर ही हम अपने प्रयासों में सफल हो सकेंगे।
  8. हमें अपनी गलत धारणाओं से अपने नकारात्मक व्यवहार को दूर करना चाहिए। यदि हम अपने नकारात्मक व्यवहार को अपने ऊपर हावी होने देते हैं, तो ये हमारे मन-मस्तिष्क पर नियन्त्रण कर लेंगे।
  9. हमें आत्मसम्मान की भावना भीतर से पैदा करनी चाहिए।
  10. हमारे पास निहित-धन, गुण, ज्ञान, योग्यता, अनुभव आदि ज्यादा मात्रा में है, तो हमें उसे बाँटना चाहिए ताकि उसका और अधिक प्रसार हो सके।

We think the data given here clarify all your queries of Chapter 5 Ten Natural Laws of Success and make you feel confident to attempt all questions in the examination. So, practice more & more from MP Board Board solutions for Class 12th English Chapter 4 & score well. Need any information regarding this then ask us through comments & we’ll give the best possible answers very soon.

Leave a Comment