MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 17 Noise

Enhance your subject knowledge with MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 17 Noise Question and Answers and learn all the underlying concepts easily. Make sure to solve the MP Board Solutions for Class 9th English PDF on a day to day basis and score well in your exams. MP Board Class 9th English Chapter 17 Noise are given after enormous research by people having high subject knowledge. You can rely on them and prepare any topic of English as per your convenience easily.

MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 17 Noise

Students looking for English Concepts can find them all in one place from our MP Board Class 9th English Solutions. Simply click on the links available to prepare the corresponding topics of English easily. MP Board Solutions for Class 9th English Chapter 17 Noise Question and Answers are given to you after ample research and as per the latest edition textbooks. Clarify all your queries and solve different questions to be familiar with the kind of questions appearing in the exam. Thus, you can increase your speed and accuracy in the final exam.

Noise Textual Exercises

Word Power

(a) Make new words from the following root words by adding the suffix-er/r/or.
(प्रत्यय जोड़कर नए शब्द बनाओ।)
Answer:
write – writer
read – reader
teach – teacher
sell – seller
supervise – supervisor
create – creator
pollute – polluter
vote – voter

(b) Look into the dictionary and find out the meanings of the words above made by adding the suffix.
(प्रत्यय जोड़कर बनाए गये शब्दों के अर्थ ढूँढ़िए।)
Answer:
Students can do themselves.
(छात्र स्वयं करें।)

II. Find out the words from the text which mean the following.
(अध्याय में से निम्नार्थक शब्द ढूँढ़ो।)

  1. To crush into fine powder – pulverize.
  2. One who teaches – teacher.
  3. One who goes from place to place to sell things – hawker.
  4. Someone whose job is to find out secret information about a country – spy.
  5. Bright and cheerful – festive.

How Much Have I Understood?

(A) Answer the following questions in one or two sentences
(निम्न प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
What are the things that create noise in this age?
(व्हॉट आर दि थिंग्स दैट क्रिएट नॉइज़ इन दिस एज?)
वे कौन सी चीजें हैं जो आज के युग में शोर उत्पन्न करती हैं?
Answer:
Radio, tape-recorders, television, loudspeakers, machines in the factories motor vehicles especially motorcycles, present day babies, hawkers on the streets etc. are the things that create noise.
(रेडियो, टेपरिकॉर्डर्स, टेलिविज़न, लाउडस्पीकर्स, मशीन्स इन द फैक्ट्रीज़, मोटर वेहिकल्स एस्पेश्यली मोटरसाइकिल्स, प्रेजेन्ट डे बेबीज, हॉकर्स ऑन द स्ट्रीट्स ऐटसेट्रा आर द थिंग्स दैट क्रियेट नॉइज़।)
रेडियो, टेपरिकॉर्डर, टेलीविजन, लाउडस्पीकर, कारखानों की मशीनें, मोटरगाड़ियाँ विशेषकर-मोटरसाइकिल, आज के बच्चे, फेरी वाले आदि शोर उत्पन्न करते हैं।

Question 2.
Why do we create noise?
(व्हॉय डू वी क्रिएट नॉइज़?)
हम शोर क्यों करते हैं?
Answer:
We create noise not only to show that we are in a happy and festive mood but also to canvass votes, to advertise a commodity or a point of view and also for its own sake.
(वी क्रिएट नॉइज़ नॉट ओनली टू शो दैट वी आर इन अ हैप्पी एण्ड फैस्टिव मूड बट ऑल्सो टू कैनवस वोट्स, टू एडवरटाईज़ अ कमोडिटी और अपॉइन्ट ऑफ वियू एण्ड ऑल्सो फॉर इट्स ओन सेक।)
हम अपनी खुशी जाहिर करने के लिए ही शोर उत्पन्न नहीं करते, बल्कि प्रचार द्वारा वोट प्राप्त करने, किसी वस्तु या विचार को विज्ञापित करने और इसको बनाए रखने के लिए भी शोर करते हैं।

Question 3.
Name the different kinds of noises.
(नेम द डिफ्रेन्ट काइन्ड्स ऑफ नॉइज़ेज़।)
विभिन्न प्रकार के शोर के नाम बताओ।
Answer:
Necessary noise, unnecessary noise, purposeful noise and purposeless noise are various types of noises.
(नेसेसरी नॉइज़, अननेसेसरी नॉइज़, परपजफुल नॉइज़ एण्ड परपजलेस नॉइज़ आर वेरिअस टाइप्स ऑफ नॉइज़ेज़।)
जरूरी शोर, अनावश्यक शोर, उद्देश्यपूर्ण शोर व अनुद्देश्यपूर्ण शोर विभिन्न प्रकार के शोर हैं।

Question 4.
How does a motor cyclist create agitation? How long does it last?
(हाउ डज़ अ मोटर साइक्लिस्ट क्रिएट एजिटेशन? हाउ लाँग इज इट लास्ट?)
मोटर साइकिल चालक किस प्रकार अशान्ति उत्पन्न करता है? वह कितनी देर तक रहती है?
Answer:
Motor cyclist creates agitation by starting the motor cycle and testing its engine. The agitation lasts half an hour even after the machine itself has gone out of sight.
(मोटर साइक्लिस्ट क्रिएट्स एजिटेशन बाइ स्टार्टिंग द मोटर साइकिल एण्ड टेस्टिंग इट्स एन्जिन। द एजिटेशन लास्ट्स हॉफ एन आवर ईवन आफ्टर द मशीन इटसेल्फ हैज गॉन आउट ऑफ साईट।)
मोटर साइकिल वाला मोटर साइकिल चलाकर व उसके इंजन की जाँच करके अशान्ति उत्पन्न करता है। वह अशान्ति उसके चले जाने के बाद आधे घण्टे तक भी रहती है।

Question 5.
Why did the author abandon a very comfortable house?
(व्हॉय डिड द ऑथर अबैन्डन अ वेरी कम्फर्टेबल हाऊस?)
Answer:
The author abandoned a very comfortable house because of a neighbour who switched on his radio every morning at five, long before even the gates were unlocked in any radio station.
(द ऑथर अबैन्डन्ड अवैरी कम्फर्टेबल हाऊस बिकॉज ऑफ अ नेबर हू स्विच्ड ऑन हिज रेडियो एवरी मॉर्निंग एट फाइव, लाँग बिफोर ईवन द गेट्स वर अनलॉक्ड इन एनी रेडियो स्टेशन।)
लेखक ने एक बहुत आरामदेह घर छोड़ा क्योंकि उसका पड़ोसी सुबह 5 बजे से अपने रेडियो को चालू कर देता था जबकि शायद किसी रेडियो स्टेशन के गेट भी न खुले हों।

Question 6.
Which factory did the author visit that he mentions?
(व्हिच फैक्ट्री डिड द ऑथर विज़िट दैट ही मैन्शन्स?)
लेखक किस कारखाने को देखने गया था?
Answer:
The author visited a gold factory.
(द ऑथर विज़िटिड अ गोल्ड फैक्टरी।)
लेखक स्वर्ण कारखाना देखने गया था।

Question 7.
What is that the author longs for?
(व्हॉट इज़ दैट द ऑथर लॉग्स फॉर?)
लेखक की क्या इच्छा थी?
Answer:
The author longs for a zone of silence.
(द ऑथर लांग्स फॉर अ जोन साइलेंस।)
लेखक शान्त क्षेत्र की इच्छा करता है।

(B) Answer the following questions in two or three sentences :
(निम्न प्रश्नों के उत्तर दो या तीन वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
What do you mean by noise pollution? How does noise create pollution?
(व्हॉट डू यू मीन बाइ नॉइज़ पॉल्यूशन? हाउ डज़ नॉइज़ क्रियेट पॉल्यूशन?)
ध्वनि प्रदूषण से तुम क्या समझते हो? ध्वनि कैसे प्रदूषण पैदा करती है?
Answer:
Noise pollution is caused by creating unwanted sound that disturbs others. Every moment it distracts our lives. The noise in an around us is wearing us out at a terrific pace, creating pollution.
(नॉइज़ पॉल्यूशन इज़ कॉज्ड बाइ क्रिएटिंग अनवॉन्टेड साउण्ड दैट डिस्टर्ब अदर्स। एवरी मोमेन्ट इट डिस्ट्रैक्ट्स आर लाइव्स। द नॉइज़ इन एन अराउण्ड अस इज़ वियरिंग अस आउट एट अ टैरिफिक पेस, क्रियेटिंग पॉल्यूशन।)
ध्वनि प्रदूषण वह अनचाहा शोर है जो दूसरों को विचलित करता है। हर पल हमारा जीवन उससे विचलित होता है। हमारे चारों ओर का शोर हमें तेजी से थका रहा है व प्रदूषण फैला रहा है।

Question 2.
Why is the whole locality. converted into a sort of gold factory?
(व्हाय इज़ द होल लोकेलिटी कन्वर्टिड इन टू अ सॉर्ट ऑफ गोल्ड फैक्ट्री?)
हमारे चारों ओर का वातावरण किस प्रकार सोने की फैक्ट्री है?
Answer:
Whole locality around us is creating so much noise that it seems to be converted into a gold factory. A gold factory is the most deafening place on earth when the ore is pulverized before being treated with cyanide.

(होल लोकैलिटी अराऊण्ड अस इज़ क्रियेटिंग सो मच नॉइज़ दैट इट सीम्स टू बी कनवर्टिड इन्टू अ गोल्ड फैक्ट्री। अ गोल्ड फैक्ट्री इज़ द मोस्ट डैफनिंग प्लेस ऑन अर्थ व्हेन द ओर इज़ पलवरइज्ड बिफोर बीइंग ट्रीटेड विद साइनाइड।)

हमारे आस-पास के वातावरण में इतना शोर उत्पन्न होता है कि ऐसा लगता है कि वह एक सोने का कारखाना है। सोने का कारखाना इस धरती पर सबसे शोरगुल वाला स्थान होता है जब कच्ची धातु को संसाधित करने से पूर्व उसका चूरा बनाया जाता है।

Question 3.
What type of pollution does your school have and what steps do you take to keep your school pollution free?
(व्हॉट टाइप ऑफ पॉल्यूशन डज़ योर स्कूल हैव एण्ड व्हॉट स्टेप्स डू यू टेक टू कीप योर स्कूल पॉल्यूशन फ्री)
तुम्हारे विद्यालय में किस प्रकार का प्रदूषण है और तुम अपने विद्यालय को प्रदूषण रहित करने के लिए क्या कदम उठाओगे?
Answer:
Our school has noise pollution. The vehicles on the street create a lot of noise pollution and the shops in front of our school play tape recorders at high volume. We have complained the collector to stop the shopkeepers from playing music at such large volume as they did not.stop it at our request.

(अवर स्कूल हैज़ नॉइज़ पॉल्यूशन। द वेहिकल्स ऑन द स्ट्रीट क्रिएट अ लॉट ऑफ नॉइज़ पॉल्यूशन एण्ड द शॉप्स इन फ्रन्ट ऑफ अवर स्कूल प्ले टेप रिकॉर्डर्स एट हाइ वॉल्यूम। वी हैव कम्प्लेंड द कलैक्टर टू स्टॉप द शॉपकीपर्स फ्रॉम प्लेइंग म्यूज़िक एट सच लार्ज वॉल्यूम एज़ दे डिड नॉट स्टॉप इट एट अवर रिक्वेस्ट।)

हमारे विद्यालय में ध्वनि प्रदूषण है। सड़क पर वाहन ‘अत्यधिक ध्वनि प्रदूषण फैलाते हैं व हमारे विद्यालय के समक्ष जो दुकानें हैं वहाँ बहुत तेज, ध्वनि पर टेप रिकॉर्डर बजता है। हमने शहर के जिलाधिकारी को शिकायत की है कि वे दुकानदारों को तेज आवाज में संगीत बजाने से रोकें क्योंकि वे हमारे कहने पर नहीं माने।

Question 4.
Why are we surrounded by a moving loud market all the time?
(व्हाय आर वी सराउन्डेड बाइ अ मूविंग लाऊड मार्केट ऑल द टाइम?)
हम हर समय अपने को एक चलते-फिरते बाजार में घिरा क्यों पाते हैं?
Answer:
We are surrounded by a moving loud market all the time because we hear the loud sounds of different street vendors trying to sell their things, anywhere within the house. They are shouting at their highest pitch.

(वी आर सराउण्डेड बाइ अ मूविंग लाऊड मार्केट ऑल द टाइम बिकॉज़ वी हिअर द लाऊड साउण्ड्स ऑफ डिफ्रेन्ट स्ट्रीट वेन्डर्स, ट्राइंग टू सैल देयर थिंग्स, एनीव्हेयर विदिन द हाऊस। दे आर शाऊटिंग एट देयर हायेस्ट पिच।)

हम एक चलते-फिरते बाजार से घिरे हुए हैं, क्योंकि हम हर समय फेरी वालों को अपना माल बेचने के लिए जोर-जोर से चिल्लाने की आवाज सुनते हैं। वे बहुत तेज चिल्ला रहे होते हैं।

Question 5.
Every noise is not necessary. What would you consider as necessary noise?
(एवरी नॉइज़ इज़ नॉट नैसेसरी। व्हॉट वुड यू कन्सिडर एज नैसेसरी नॉइज़?)
हर आवाज आवश्यक नहीं होती। कौन-सी आवाज को तुम आवश्यक समझते हो?
Answer:
Sound that is created at a medium volume for communication purpose in the necessary noise.
(साउण्ड दैट इज़ क्रियेटिड एट अ मीडियम वॉल्यूम फॉर कम्युनिकेशन्स परपज इज़ द नैसेसरी नॉइज़।)
आवश्यक उद्देश्य से मध्यम आवाज में की गई ध्वनि आवश्यक शोर होता है।

(C) Choose the correct option
(सही विकल्प चुनिए।)

(1) We don’t create a noise when we :
(a) canvass for votes
(b) advertise a commodity
(c) read loudly
(d) read silently.
Answer:
(d) read silently.

(2) The noisiest creatures on the earth are :
(a) animals
(b) birds
(c) insects
(d) children.
Answer:
(d) children.

(3) A moving loud market means :
(a) a market on wheels
(b) many markets selling different things
(c) a voice which fills the entire area
(d) cry loudly.
Answer:
(a) a market on wheels

(4) ‘Hawking’ means :
(a) go from place to place to sell things
(b) to call
(c) street sellers
(d) poor workers.
Answer:
(a) go from place to place to sell things

(5) Noise pollution can be controlled by :
(a) the government
(b) the police
(c) The citizens
(d) all of them.
Answer:
(c) The citizens.

Language Practice

(A) Combine the pair of sentences into one using nouns clause as an object of the verb :
(1) I think.
He has done his work.
Answer:
I think that he has done his work.

(2) He says.
He is a doctor.
Answer:
He says that he is a doctor.

(3) You assure.
You will attend the meeting.
Answer:
You assure that you will attend the meeting.

(4) They say.
The students are hard working.
Answer:
They say that the students are hard working.

(5) The teacher feels.
I am sick.
Answer:
The teacher feels that I am sick.

(B) Combine the following pair of the sentences to make a noun clause as a subject of the verb.
(निम्नलिखित वाक्य जोड़िए)

(1) He is my friend.
It is true.
Answer:
That he is my friend is true.

(2) When does he go to school?
It is not known to us.
Answer:
When he goes to school is not known to us.

(3) What do you mean by this?
It is clear to me.
Answer:
What do you mean by this is clear to me.

(4) Who do you like most?
It is still not clear.
Answer:
Whom you like most is still not clear.

(5) How are you preparing?
It is not known to me.
Answer:
How you are preparing is not known to me.

Listening Time

I. Listen carefully to your teacher and tick the correct word given in the sentences.
(सही शब्द चिह्नित करो।)

(1) I can see myself/myshelf.
Answer:
myself.

(2) Ram had a big sock/shock.
Answer:
shock.

(3) Sow/show the dress.
Answer:
show.

(4) She went down to the seasore/seashore.
Answer:
seashore.

(5) She was a short/sort girl.
Answer:
short.

(6) The sea/see was shallow.
Answer:
sea.

II. Listen carefully to your teacher reading the passage below and underline the words in which the letter ‘a’ is pronounced as in the word ‘cart.
(A अक्षर के ‘आ’ उच्चारण वाले शब्द छाँटिए)
Answer:
In the afternoon the farmer went into his garden and cut some flowers. He put them in his cart and took them to the market. He sold the flowers and bought a duck which he put in the basket. Then he started to go home. But it , was dark and the path was hard. Suddenly a dog barked loudly and this alarmed him very much.

Speaking Time

Complete the following conversation :
(निम्न वातोलाप को पूरा करो।)
Answer:
1. Rohan : Excuse me did you drop this purse?
Lady : I beg your pardon.
Rohan : I said, ‘Did you drop this purse?’
Lady : Could you be a little bit louder?
Rohan : I’ve found this purse. Is it yours?
Lady : I’m sorry. I’m a little deaf. I couldn’t hear what you said. Any purse? Yes, that’s mine. I must have dropped it.
Lady : Thank you for your kindness.
Rohan : It’s a pleasure.

2. Mala : Excuse me I want to know the address of Mrs. Mishra
Gentleman : I beg your pardon.
Mala : May I know the address of Mrs. Mishra?
Gentleman : You walk to a short distance and turn to the right. The house in the corner is of Mr. Mishra.
Mala : Thank you sir.
Gentleman : It’s pleasure.

Writing Time

Write an article for your school magazine entitled “Living safely”.
(विद्यालय की वार्षिक पत्रिका के लिए दिए गए शीर्षक पर एक लेख लिखिए।)
Answer:
Living Safely

Safety is very necessary in our lives. There is a saying “Precaution is better than cure.’ So, one should take safety or precaution to prevent injuries and accidents that may be fatal to our lives.

We should take precautions both at home and outside. While on road we should drive carefully at slow speed, wear helmet and avoid using mobile phones. We should also obey traffic signals as it prevents accidents. Pedestrians should use overhead bridges and walk on the footpath, cross at Zebra crossing following traffic signals.

At home children most often come across accidents. Care should be taken to prevent them from accidents. Medicines should be kept out of their reach and matches and sharp objects like blade etc., should also be kept away from them. Hence, to live safely safety is essential so that one may not come across accidents.

Things to do

How can crowded scenes on the road to school or in the market be avoided? Prepare a list of suggestions.
(स्कूल के रास्ते व बाजार से भीड़ किस प्रकार हटाई जा सकती है?)
Answer:
To prevent crowd on road and in market following steps can be taken-

  1. Parking of vehicles on the road should be avoided.
  2. Street vendors and hawkers should be prevented on busy roads and markets.
  3. Large vehicles like buses, trucks and cars should be prevented on such roads,
  4. Footpath shops should be removed from the market.
  5. Traffic signals should be followed on road.

Noise Difficult Word Meanings

canvass (केनवास)-to ask somebody to support a particular person, political party etc. किसी चीज के लिए समर्थन माँगना, चुनाव प्रचार; peculiar (पिक्युलिअर)-strange or unusual विशेष, खास; elegant (एलिगेन्ट)graceful and attractive भव्य व आकर्षक; hawk (हॉक)-to try to sell things going from place to place asking people to buy them जगह-जगह जाकर चीजें बेचना; anguish (एनिवश)-severe pain तीव्र वेदना; abandon (अबैन्डन)-to leave a thing or place स्थान त्यागना; skewer (स्कवर)-to push a thing or object through something किसी तीखी वस्तु को किसी में घुसाना।

Noise Summary, Pronunciation & Translation

[1] This age will probably be known as the noisiest in human history. We create a lot of noise not only to show that we are in a happy, festive mood, to canvass votes, to advertise a commodity or a point of view, but also for its own sake. Noise is the greatest bane of modern life. Every moment of our lives we are being distracted by it, necessary noise, unnecessary noise, purposeful noise and the purposeless, enough to weaken our nerves and madden us. The noise in and around us is wearing us out at a terrific pace.

(दिस ऐज़ विल प्राबेब्ली बी नोन एज़ द नॉइजिएस्ट इन ह्यूमन हिस्ट्री। वी क्रीएट अ लॉट ऑफ नॉइज़ नॉट ओनली टु शो दैट वी आर इन अ हैप्पी, फेस्टिव मूर्ड, टु केनवास बोट्स, टु एडवरटाइज़ं अ कमोडिटी और अ पॉइन्ट ऑफ विउ, बट ओल्सो फोर इट्स ओन सेक। नॉइज़ इज़ द ग्रेटेस्ट बेन ऑफ मॉडर्न लाइफ। एवी मॉमेन्ट ऑफ अवर लाइब्ज वी आर बीईंग डिस्ट्रेक्टेड बाय इट, नेसेसरी नॉइज़, अननेसेसरी नॉइज़, पर्पजफुल नॉइज़ एण्ड द परपज़लेस, इनफ टु वीकन अवर नज एण्ड मेडन अस। द नॉइज़ इन एण्ड अराउण्ड अस इज़ वीअरिंग अस आउट एट यू टेरिफिक पेस।)

हिन्दी अनुवाद :
यह युग सम्भवतः मानव इतिहास में सबसे ज्यादा शोरगुल वाला युग जाना जाएगा। हम बहुत शोरगुल केवल यह बताने के लिए नहीं करते हैं कि हम खुशी में हैं, उत्सवी मड में हैं, वोट माँगने के लिये या किसी वस्तु अथवा दृष्टिकोण के प्रचार के लिए अपितु केवल शोर करने के लिए शोर करते हैं। शोरगुल आधुनिक जीवन का अभिशाप है। हमारे जीवन का प्रत्येक क्षण इसके द्वारा भटकाया जाता है। आवश्यक शोरगुल, अनावश्यक शोरगुल, उद्देश्यपूर्ण व अनुद्देश्यपूर्ण शोरगुल हमारी मस्तिष्क की नसों को कमजोर बनाने के लिए व हमें पागल बनाने के लिये पर्याप्त है। हमारे घर और बाहर शोरगुल हमें शीघ्रता से नष्ट कर रहा है।

[2] Someone noted recently that present-day babies are peculiarly loud-throated. They look elegant and sweet, no doubt, but the moment they open their mouths they let out a shattering volume of sound. School teachers do their best from the beginning by ordering every few seconds in the classroom, ‘silence, silence’. But it does not appear to have any effect on children. They remain the noisiest creatures on the earth. I think there will be an all-round benefit if a period of absolute silence is introduced in every class time table with a prize at the end of the year for the softest spoken person in the school.

(समवन नोटेड रिसेन्टली दैट प्रेजेन्ट डे बेबीज़ आर पिक्युलरली लाउड थ्रोटेडा दें लुक इलेजान्ट एण्ड स्वीट, नो डाउट, बट द मोमेन्ट दे ओपन देअर माउथ्स दे लेट आउट अ शेटरिंग वॉल्यूम ऑफ साउन्ड। स्कूल टीचर्स डू देअर बेस्ट फ्रॉम द बिगनिंग बाय ऑर्डरिंग एव्री फिउ सेकण्ड्स इन द क्लास रूम, ‘साइलेन्स, साइलेन्स।’ बट इट डज़ नॉट अपीयर टु हैव. एनी इफेक्ट ऑन चिल्ड्रन। दे रिमेन द नॉइजिएस्ट क्रीएचर्स ऑन द अर्थ। आई थिंक देअर विल वी एन ऑल राउण्ड बेनीफिट इफ अपीरियड ऑफ अब्सोल्यूट ‘साइलेन्स’ इज़ इन्ट्रोड्यूस्ड इन एव्री क्लास टाइम टेबल विद अ प्राइज़ एट द एन्ड ऑफ द यीअर योर द सॉफ्टेस्ट स्पोकन पर्सन इन द स्कूल।)

हिन्दी अनुवाद :
किसी ने अभी-अभी यह नोट किया कि आजकल के बच्चे खासकर जोर से बोलने वाले गले वाले हैं। वे बेशक, बहुत आकर्षक और मीठे दिखते हैं, पर जिस क्षण वे अपने मुँह खोलते हैं वे बहुत कानफाड़ ध्वनि का शोर करते हैं। स्कूल के शिक्षक कक्षा में निरन्तर “शान्ति शान्ति” का आदेश देने का भरसक प्रयास करते हैं। परन्तु इसका बच्चों पर कोई प्रभाव नहीं दिखता। वे इस पृथ्वी पर सबसे ज्यादा शोरगुल मचाने वाले प्राणी हैं। मैं सोचता हूँ कि हमें सब तरह से लाभ होगा यदि प्रत्येक कक्षा के टाइमटेबल में एक वादन “पूर्णतः शान्ति” का हो तथा प्रत्येक वर्ष के अन्त में “सबसे कोमल ध्वनि” वाले व्यक्ति के लिए स्कूल में एक इनाम रखा जाए।

[3] Hawking in the streets has, of late, become a little too much. It seems impossible to concentrate on any study.or writing at home,particularly if one’s window looks over’a street. Even if one retires to the back of the house, one may not be saved, since the hawker seems to set the pitch of his voice on the basis that you should be searched out and pierced through and through, even if you are hiding in the innermost recess of the house.

(हॉकिंग इन द स्ट्रीट्स हेज़, ऑफ लेट, बिकम ए लिटिल टू मच। इट सीम्स इम्पॉसिबल टु कन्सेन्ट्रेट ऑन एनी स्टडी और राइटिंग एट होम, पर्टिक्युलरली इफ वन्स विन्डो लुक्स ओवर अ स्ट्रीट। इवन इफ वन रिटायर्स टु द बैक ऑफ द हाउस, वन मे नॉट बी सेव्ड, सिन्स द हॉकर सीम्स टू सैट द पिच ऑफ हिज़ वॉयस ऑन द बेसिस दैट यू शुड बी सर्ल्ड आउट एण्ड पीअर्ल्ड श्रू एण्ड थू, इवन इफ यू आर हाइडिंग इन द इनरमोस्ट रिसेस ऑफदा हालस।)

हिन्दी अनुवाद :
गर्मियों में जोर-जोर से आवाज लगाकर फेरी लगाना (सामान बेचना) कुछ ज्यादा ही बढ़ गया है। घर पर अध्ययन करना या लिखना भी असम्भव प्रतीत होता है, विशेष रूप से यदि खिड़की गली या सड़क पर खुलती हो। यदि कोई अपने पीछे के कमरे में विश्राम भी कर रहा है तो, भी बच नहीं सकता क्योंकि फेरीवाला अपनी आवाज को इतनी ऊँची कर देता है कि वह आवाज आपको खोज ले और आपको पूरी तरह बेच दे, चाहे आप घर के सबसे अन्दरूनी कोने में ही क्यों न छिपे हों।

[14] At the moment I am writing this I see and hear two plantain-sellers coming on each other’s heels, almost trying to bark each other out of existence. I fear that ‘Grow More Food’ campaign has brought in only more plantains since I notice two more hawkers coming in with the same commodity. Now for a variation, I suppose, a seeker of old paper and empty bottles is expressing his wish in a rich, space-filling voice, a knife-grinder is employing an anguished cry like one caught in a trap and many others follow; all that we understand is that they are shouting something, it may be anything from gingerly oil-cake to lotus flowers, brinjals and bangles. We are surrounding by a moving loud market all the time.

(एट द मोमेन्ट आई एम राइटिंग दिस आई सी एण्ड हीअर टू प्लेनटेन सेलर्स कमिंग ऑन ईच अदर्स हील्स, अलमोस्ट ट्राइंग टु बार्क ईच अदर आउट ऑफ एक्ज़िस्टन्स। आई फिअर दैट – “ग्रो मोर फूड” केम्पेन हेज़ ब्रॉट इन ओनली मोर प्लेनटेन्स सिंस आई नोटिस टू मोर हॉकर्स कमिंग इन विद द सेम कमोडिटी। नाउ फोर ए वेरिएशन, आई सपोज़, ए सीकर ऑफ ओल्ड पेपर एण्ड एम्प्टी बॉटल्स इज़ एक्सप्रेसिंग हिज़ विश इन अ रिच, स्पेस फिलिंग वॉइस, अ नाइफ ग्राइन्डर इज़ इम्प्लॉइंग एन एंग्विश्ड क्राय लाइक वन कॉट इन अ ट्रेप, एण्ड मेनी अदर्स फॉलो; ऑल दैट वी अन्डरस्टेण्ड इज़ दैट दे आर शाउटिंग समथिंग, इट मे बी एनीथिंग फ्रॉम जिन्जरली ऑइल केक, टु लोट्स फ्लावर्स, ब्रिन्जाल्स एण्ड बेंगल्स। वी आर सराउन्डिंग बाय ए मूविंग लाउड मार्केट ऑल द टाइम।)

हिन्दी अनुवाद :
जिस क्षण मैं यह लिख रहा हूँ, मैं देखता व सुनता हूँ दो केले विक्रेताओं का बिल्कुल एक के पीछे एक, वें इतनी जोर से चिल्लाते हैं मानो वे एक-दूसरे का अस्तित्व ही खत्म कर देंगे। मुझे डर है कि अधिक अन्न उपजाओ’ आन्दोलन केवल अधिक केलों को उपजाया है क्योंकि मैंने महसूस किया कि दो और हॉकर्स इसी माल को लेकर आ रहे हैं। अब थोड़े परिवर्तन के लिए, मैं अनुमान करता हूँ कि, एक रद्दी पेपर व खाली बोतलों को पाने वाला अपनी भरपूर आवाज से उस स्थान को गुंजाता है, एक चाकू तेज करने वाला एक वेदनापूर्ण आवाज करता है जैसे कि कोई किसी जाल में फंस गया हो, और अन्य भी आ रहे हैं, सभी जैसा कि हम समझते हैं वे किसी चीज के लिए आवाज कर रहे हैं वो कुछ भी हो सकता है अदरक के तेल वाली केक से लेकर कमल के फूल, बैंगन और चूड़ियाँ। हम हर समय चलते-फिरते शोर भरे मार्केट से सदैव घिरे रहते हैं।

[5] I have dread of living next to a man owning a motor cycle. When a motor cyclist starts out, the agitation he creates lasts half-an-hour, even after the machine itself has gone out of sight. On Sundays this enthusiast tests and touches up his engine, whereupon the whole locality is converted into a sort of gold factory. I say gold factory because, in my experience, it is the most deafening place on earth when the ore is pulverized before being treated with cyanide. This was all I could catch of the whole process when I visited a gold-mine some years ago. My guide was explaining everything to me in great detail, but I could only see his lips move, there was such a clatter all around. It has been the same experience for me in any factory.

(आई हैव अ ड्रेड ऑफ लिविंग नेक्स्ट टु अ मैन ओनिंग अ मोटर साइकिल। व्हेन अ मोटर साइक्लिस्ट स्टार्ट्स आउट द एजिटेशन ही क्रीएट्स लास्टस हॉफ-एन-अवर, ईवन ऑफ्टर द मशीन इटसेल्फ हैज गोन आउट ऑफ साइट। ऑन सन्डेज दिस एन्थूजियास्ट टेस्ट्स एण्ड टचेस अप हिज़ इंजिन, व्हेअर अपॉन द होल लोकेलिटी इज़ कनवर्टेड इन टू ए सॉर्ट ऑफ गोल्ड फेक्ट्री। आई से गोल्ड फेक्ट्री बिकॉज़, इन माय एक्सपीरियन्स, इट इज़ द मोस्ट डीफनिंग प्लेस ऑन अर्थ व्हेन द ओर इज़ पल्वेराईज्ड बिफोर बीईंग ट्रीटेड विद सायनाइड। दिस वॉज़ आल आई कुड केच ऑफ द होल प्रोसेस व्हेन आई विज़िटेड अ गोल्ड-माइन सम यीअर्स एगो। माय गाइड वॉज़ एक्सप्लेनिंग एवरीथिंग टु मी इन ग्रेट डिटेल, बट आई कुड ओनली सी हिज़ लिप्स मूव, देयर वॉज़ अक्लेटर ऑल अराउन्ड। इट हेज बीन द सेम एक्सपीरियन्स फोर मी इन एनी फेक्ट्री।)

हिन्दी अनुवाद :
मुझे पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति जिसके पास एक मोटर बाइक है, के लिए डर रहता है। जब कोई बाइक चलाने वाला व्यक्ति अपनी गाड़ी चलाना आरम्भ करता है उससे उत्पन्न परेशानी व कष्ट कम से कम आधे घंटे तक रहता है जब तक कि वह मशीन आँखों के सामने से ओझल न हो जाए। रविवार के दिन जब अपनी मशीन पर वह यह जोश भरे परीक्षण करता है तो पूरा क्षेत्र एक सोने का कारखाना बन जाता है। मैं इसे सोने का कारखाना कह रहा हूँ क्योंकि मेरा अनुभव यह है कि जब सायनाइड के साथ खनिज का प्रयोग होने से पहले धातु अथवा खनिज छोटे-छोटे टुकड़ों में बदलता है तब यह पृथ्वी का सबसे अधिक वधिर (बहरा) कर देने वाला स्थान हो जाता है। यह पूरी विधि मैंने देखी क्योंकि कुछ वर्ष पूर्व मैं एक सोने की खदान में भ्रमण करने गया था। मेरा गाइड (पथप्रदर्शक) मुझे सब कुछ विस्तारपूर्वक बता रहा था, परन्तु मैंने केवल उसके होंठ हिलते ही देखे क्योंकि चारों तरफ इतना कोलाहल (खड़खड़ाहट) था। मेरे लिए वह अनुभव ऐसा था जैसे कि मैं किसी कारखाने में हूँ।

[6] I have often been taken around many types of factories, but as my guides move their lips. I give up all attempts at knowing how cotton or silk is converted into yarn and fabric. The noise of machinery is always at a higher scale than the voice of the guide, a fact which is generally overlooked by those who take people around factories. While all the explanation is going on, my mind keeps feasting on visions of a zone of silence.

(आई हैव ऑफन बीन टेकन अराउन्ड मेनी टाइप्स ऑफ फेक्ट्रीज़, बट एज़ माय गाइड्स मूव देअर लिप्स, आई गिव अप ऑल अटेम्पट्स एट नोइंग हाउ कॉटन और सिल्क इज़ कनवर्टेड इन्टू यार्न एण्ड फेब्रिक। द नॉइज ऑफ मशीनरी इज़ आलवेज़ एट द हायर स्केल देन द वॉयस ऑफ द गाइड, अ फेक्ट विच इज़ जनरली ओवरलुक्ड बाय दोज़ हू टेक पीपुल अराउन्ड फेक्ट्रीज़। व्हाइल ऑल द एक्सप्लेनेशन इज गोइंग ऑन, माय माइन्ड कीप्स फेयस्टिंग ऑन विजन ऑफ अ जोन ऑफ साइलेन्स।)

हिन्दी अनुवाद :
मुझे कई प्रकार की फैक्ट्रियों में ले जाया गया परन्तु मेरे गाइड केवल अपने होठों को ही हिलाते थे। मैं कपास या रेशम को किस तरह सूत और कपड़े में बदला जाता है इसे समझने के सभी प्रयास त्याग देता हूँ। मशीनरी का शोरगुल गाइड की आवाज से बहुत तीव्र होता है, यह तथ्य उन लोगों द्वारा उपेक्षित कर दिया जाता है जो लोगों को फैक्ट्रियों में ले जाते हैं। जबकि सारा वर्णन चलता रहता है, मेरा मस्तिष्क किसी शान्ति क्षेत्र के मानसिक दृश्यों में विचरण करता रहता है।

[7] I abandoned a very comfortable house once because of a neighbour who switched on his radio every morning at five, long before even the gates were unlocked in any radio station. The result of such an early switching on was that the radio (the neighbour’s) kept up a sort of humming, a most harassing accompaniment, unbroken like the humming of a thousand bees. I fear that this simile may mislead my readers by its poetic association, but, far from it, this humming was like the skewering of one’s brain by many instruments of torture, something like a pneumatic drill operating at one’s temples.

(आई अबैन्डन्ड अ वेरी कम्फर्टेबल हाउस वन्स बिकॉज़ ऑफ अ नेबर हू स्विच्ड ऑन हिज़ रेडियो एवी मॉर्निंग एट फाइव, लॉग बिफोर इवन द गेट्स वर अनलॉक्ड इन एनी रेडियो स्टेशन। द रिज़ल्ट ऑफ सच एन अर्ली स्विचिंग ऑन वॉज़ दैट द रेडियो (दे नेबर्स) केप्ट अप अ सॉर्ट ऑफ यूमिंग, अ मोस्ट हेरासिंग अकम्पनीमेंट अनब्रोकन लाइक द यूमिंग ऑफ अ थाउजन्ड बीज। आई फियर दैट दिस सिमिल मे मिस्लीड माय रीडर्स बाय इट्स पोएटिक असोसिएशन बट फार फ्रॉम इट, दिस यूमिंग वॉज़ लाइक द स्कीविरंग ऑफ वन्स ब्रेन बाय मेनी इंन्स्ट्रमेंटस ऑफ टॉरचर, समथिंग लाइक अ न्यूमेटिक ड्रिल ऑपरेटिंग एट वन्स टेम्पल्स।)

हिन्दी अनुवाद :
मैंने एक बहुत ही आरामदेह घर को त्याग दिया क्योंकि एक पड़ोसी था जो अपने रेडियो को प्रात: 5 बजे चालू कर देता था, किसी रेडियो स्टेशन के गेट के ताले खुलने से बहुत पहले। परिणाम था कि पड़ोसी का रेडियो एक प्रकार की गुनगुनाहट करता रहता था, जो कि एक प्रकार पीड़ादायी साथी था, बिना रुके हजारों मधुमक्खियों की गुनगुनाहट के समान था। मुझे डर है कि वह उपमा मेरे पाठकों को उसके कविता के साथ जुड़े होने से गलतफहमी पैदा करेगी किन्तु इससे दूर तक, यह गुनगुनाहट किसी व्यक्ति के कानों में कई यन्त्रों द्वारा किसी व्यक्ति के मस्तिष्क भेदन के समान लगती थी। एक प्रकार की वायु चलित बरमें के द्वारा खोपड़ी में भेदन करने के समान।

[8] Why my neighbour should have queued up so early in the day in order to receive a radio programme was a thing I could never understand. Its only effect was to make me get up early since I did not like to lie in bed wallowing in uncheritable neighbourly thoughts the first thing in the day. Moreover I was not without hope since a friend who knows all about radios told me that my neighbour’s habit of switching on the radio when the transmitter was still cold was the surest way of destroying the valves, if not the radio itself ………. But nothing occurred along those happy lines, and I had to move on.

(व्हॉय माय नेबर शुड हैव क्यूउड अप सो अर्ली इन द डे इन ऑर्डर टु रिसीव अ रेडियो प्रोग्राम वॉज़ अ थिंग आई कुड नेवर अण्डरस्टैण्ड्। इट्स ओनली इफेक्ट वॉज़ टु मेक मी गेट अप अर्ली सिन्स आई डिड नॉट लाइक टू लाइ इन बेड वेलोइंग इन अनचेरिटेबल नेबरली थॉट्स द फर्स्ट थिंग्स इन द डे। मोरओवर आई वॉज़ नॉट विदाउट होप सिन्स अ फ्रेन्ड हू नोज ऑल अबाउट रेडियोज टोल्ड मी दैट माय नेबर्स हैबिट ऑफ स्विचिंग ऑन द रेडियो व्हेन द ट्रांसमिटरं वॉज़ स्टिल कोल्ड वॉज़ द स्युअरेस्ट वे ऑफ डिस्ट्रॉइंग वाल्व्ज, इफ नॉट द रेडियो इट सेल्फ …….. बट नथिंग आकर्ड एलांग दोज हैप्पी लाइन्स, एण्ड आई हैड टू मूव ऑन।)

हिन्दी अनुवाद :
मेरा पड़ोसी इतनी जल्दी दिन में रेडियो कार्यक्रम को प्राप्त करने में लाइन में लग जाता है मैं कभी समझ नहीं पाया। इसका मुझ पर इतना ही प्रभाव मेरे ऊपर हुआ कि मुझे भी जल्दी उठ जाना पड़ता था क्योंकि मैं इतनी देर तक बिस्तर में पड़ा पड़ोसी के प्रति द्वेषपूर्ण विचारों में सुबह-सुबह लिपटा नहीं रहना चाहता था और मैं इस उम्मीद में नहीं था क्योंकि मेरे एक मित्र ने जो कि रेडियो के बारे में सब कुछ जानता था कहा कि रेडियो जो ट्रांसमिटर के ठंडे बने रहने के वक्त रेडियो को ऑन करना यदि रेडियो को नहीं तो उसके वॉल्ब्ज को नष्ट करना है …….. किन्तु कुछ भी नहीं हुआ और मुझे वहाँ से चले जाना पड़ा।

[9] I sometimes feel that God, who constructed the human body with so much forethought seems to have become weary when he came to the ears, and left them as the most vulnerable portion of a human being. The result is that we spend all our hours longing for something that we cannot attain, namely silence.

(आई समटाइम्स फील दैट गौड, हू कन्स्ट्रक्टेड द ह्यूमन बॉडी विद सो मच फोरथॉट सीम्स टू हैव बिकम वीअरी वेन ही केम टु द इअर्स, एण्ड लेफ्ट देम-एज द मोस्ट वलनरेवल पोर्स ऑफ ए ह्यूमन बीइंग। द रिजल्ट इज दैट वी स्पेन्ड ऑल अवर आवर्स लाँगिंग फॉर समथिंग दैट वी कैननॉट एटेन, नेमली साइलेन्स।)

हिन्दी अनुवाद :
कभी-कभी मैं सोचता हूँ कि ईश्वर जिन्होंने मानव संरचना इतने सोच विचार के पश्चात् की है, भी परेशान व चिन्तित हो गये होंगे जब ईश्वर ने कानों के विषय में सोचा होगा और फिर उसे मानव का सर्वाधिक आघात करने योग्य वाला भाग समझकर छोड़ दिया। परिणामस्वरूप हम अपना सारा समय कुछ पाने की इच्छा में, जिसे हम प्राप्त नहीं कर सकते में बिता देते हैं और जो है शान्ति।

We as a team believe the information prevailing regarding the MP Board Solutions for Class 9th English Chapter 17 Noise Question and Answers has been helpful in clearing your doubts to the fullest. For any other help do leave us your suggestions and we will look into them. Stay in touch to get the latest updates on State Board Solutions for different subjects in the blink of an eye.

Leave a Comment